May 18, 2021

THF

THE HINDI FACTS

Seo kya hai

SEO Kya Hai ( On-Pge & Off-Page SEO–black hat and white hat SEO )

SEO kya hai,  what is SEO in Hindi, आज मै  यहा आपको सर्च इंजन optimization क बारे मे  बताऊँगा , अगर आप एक ब्लॉगर है और अपनी वेबसाईट को google मे  टॉप पर लाना चाहते  है तो आपको seo क बारे मे  बहुत achhi  जानकारी होनी चाईए क्योंकि seo ही एक एसा टूल  है जो  आप कह सकते है क एक एसी  टेक्नीक है जिसके मदद से आप अपने द्वारा लिखे हुए कंटेन्ट को गूगल पर रैंक करा सकते है ।

 

Quality of traffic (ट्रैफ़िक)।

 

आप दुनिया के सभी visitors को आकर्षित कर सकते हैं, लेकिन अगर वे आपकी साइट पर आ रहे हैं क्योंकि Google उन्हें बताता है कि आप Apple कंप्यूटर के लिए एक resource हैं जब आप वास्तव में एक किसान हैं जो सेब बेच रहे हैं, तो यह गुणवत्ता वाला ट्रैफ़िक नहीं है। इसके बजाय आप उन visitors को आकर्षित करना चाहते हैं जो वास्तव में आपके द्वारा पेश किए जाने वाले उत्पादों में रुचि रखते हैं।

 

Quantity of traffic (ट्रैफ़िक)

 

एक बार जब आपके पास उन खोज इंजन परिणाम पृष्ठों (SERPs) से क्लिक करने वाले सही लोग हों, तो अधिक ट्रैफ़िक बेहतर होता है।
जैविक परिणाम। विज्ञापन कई SERPs का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाते हैं।

ऑर्गेनिक ट्रैफ़िक   ट्रैफ़िक है जिसके लिए आपको भुगतान नहीं करना पड़ता है।

 

SEO कैसे काम करता है

 

आप एक खोज (search Engines) इंजन के बारे में सोच सकते हैं एक वेबसाइट के रूप में आप एक बॉक्स में एक प्रश्न टाइप करते हैं (या बोलते हैं) और Google, याहू !, बिंग, या जो भी खोज इंजन आप जादुई उत्तरों (Magical Answers) का उपयोग कर रहे हैं, वेबपेजों के लिंक की लंबी सूची के साथ संभावित रूप से आपके प्रश्न का उत्तर दे सकता है।

यह सच है। लेकिन क्या आपने कभी विचार किया है क ये सर्च इंजन काम कैसे करता है और ये आपको आपके द्वारा टाइप किए गए सबाल का जबाब कैसे देता है  

यहां बताया गया है कि यह कैसे काम करता है: Google (या कोई भी खोज इंजन जिसका आप उपयोग कर रहे हैं) में एक क्रॉलर है जो बाहर जाता है और उन सभी सामग्रियों के बारे में जानकारी इकट्ठा करता है जो वे इंटरनेट पर पा सकते हैं। क्रॉलर इंडेक्स बनाने के लिए उन सभी 1s और 0s को खोज इंजन में वापस लाते हैं। उस सूचकांक को तब एक एल्गोरिथ्म के माध्यम से खिलाया जाता है जो आपकी क्वेरी के साथ उस सभी डेटा से मेल खाने की कोशिश करता है।

 

 

Seo  Kya hai (क्या है?) What is SEO in Hindi

 

Seo का फुल फॉर्म होता है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन।(Search Engine Optimization)

अब आप बोलोगे की मैने तो आपको फुल फॉर्म बताया। तो चलिए मैं आपको समझाता हु की seo kya hai ?

मानलो आपने एक वेबसाइट ya blog बनायी और उस पर कंटेंट अपलोड किया,अब सवाल आता है कि आप उसे दुनिया मे फैलाएंगे कैसे, मेरा मतलब है कि आप उसे इंटरनेट की दुनिया मे कैसे लाएंगे।

SEO क्या है? (SEO Kya Hai इन हिन्दी ) इसके तीन तरीके है।

 

1. आप उसे फेसबुक पर पोस्ट कर दोगे या फिर व्हाट्सएप्प के ग्रुप में शेयर करोगे लेकिन आप को यंहा से ज्यादा से ज्यादा 200 ट्रैफिक आएगी।

2. दूसरा तरीका है कि आपके गूगल पर ऐड चलाये लेकिन इस मेथड से आपको फायदा कम और नुकशान ज्यादा होगा और आपका बहुत सारा पैसा खर्च हो जायेगा।

3. तीसरा तरीका आता है ऑर्गैनिक सर्च का,आप आर्गेनिक सर्च की मदद से अपनी वेबसाइट पर मिलियन व्यूज ला सकते हो वो भी बिना एक रूपया खर्च किये हुए।।
तो चलिए बताते है कि आप आर्गेनिक सर्च कैसे लाओगे।

किसी भी साइट का seo करने से पहले सबसे पहला स्टेप आता है कि keyword पहचाने।ये keyword वही है जिसकी मदद से आप अपने वेबसाइट पर मिलियन व्यूज लाएंगे।आपकी वेबसाइट पर जितने आपके कंटेंट के रीलेटेड keyword रहेंगे उतना अधिक आपका ब्लॉग गूगल पर रैंक करेगा।

 

SEO कैसे काम करता है।-How does seo works

 

अगर आप गूगल पर सर्च करते हो,”What is Seo tutorial” तो सर्च इंजन पहले से crawl और गूगल पर index की हुई रैंकिंग लिस्ट को सामने ले आता है।जिसमे bots और spider लगातार काम करके crawl और index से अपनी लिस्ट बना लेते है।तो आप जो सर्च करते है वह “SERP” पर दिखाई देता है।सारे सर्च इंजन तीन स्टेप पर काम करते है।

 

1.CRAWLING
2.INDEXING
3.RANKING

 

1.Crawling- इसमे गूगल सर्च इंजन बोट्स और स्पाइडर आपकी वेबसाइट के पेज को खोजकर उसे स्कैन करते है।तो उसे crawling कहते है।

2.indexing- इसमे आपके पेज के कंटेंट को क्वालिटी के आधार पर आपको सर्च इंजन के वेबमास्टर टूल में इंडेक्स किया जाता है।

3.Ranking-इस टेक्नोलॉजी में आपके पेज को आपके keyword के आधार पर रैंक किया जाता है।

इन तीनो चीजो से आपको पता लग चुका होगा कि सर्च इंजन कैसे और किस टेक्नोलॉजी पर काम करता है।

Seo टेक्नोलॉजी का हमारे ब्लॉग पर बहुत महत्वपूर्ण कार्य होता है।अब बात करते है Seo टेक्नोलॉजी कितने प्रकार की होती है।

SEO कितने  प्रकार की होती है।-SEO kya hai

 

1.White hat SEO
2.black hat SEO

 

Seo टेक्नोलॉजी हमारे ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने में बहुत महत्वपूर्ण होते है,लेकिन अगर आपको सही जानकारी न हो तो ये आपके ब्लॉग को नुकशान पहुँचा सकते है।

 

1.White hat Seo

 

जब आप अपनी वेबसाइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक लाते है और लिंक बिल्ड करते है तो ऐसी टेक्निक को white seo कहते है।white seo किसी भी ब्लॉग के लिए बहुत जरूरी होता है।और इससे आपकी ट्रैफिक बढ़ती है और वेबसाइट की वैल्यू भी बढ़ती है।

 

2.Black hat Seo

 

कभी कभी कुछ ब्लॉगर अपनी वेबसाइट को गूगल में रैंक करने के लिये सर्च इंजन की गाइडलाइन को दरकिनार कर देते है तो आपकी वेबसाइट पर black seo हो जाता है जो किसी भी वेबसाइट की ट्रैफिक पर बहुत बुरा प्रभाव डालता है।

 

 seo कितने प्रकार से करते हैं

 

तो दोस्तो Seo तीन प्रकार के होते है।

1.on page seo
2.off page seo
3.Local page seo

1.on page seo

 

इसका काम ओके वेबसाइट के अंदर होता है।मतलब आप अपनी वेबसाइट को ठीक तरीके से डेवलप करे जो seo friendly हो। और जो गूगल seo के नियमो को फॉलो करें।
आप अपनी वेबसाइट पर ऐसे टेम्पलेट का यूज़ करे जो गूगल seo के नियमो के अंतर्गत आता हो।अपनी वेबसाइट पर कंटेंट को अच्छे तरीके से लिखे और उसमें अपने कंटेंट के रीलेटेड keywords का यूज़ करे।जितना अधिक keyword आप अपने ब्लॉग पोस्ट में यूज़ करेंगे उतना अधिक आपका ब्लॉग रैंक करेगा।
आपको हमेशा अपनी वेबसाइट की स्पीड पर ध्यान देना होगा,क्योंकि कोई भी विजिटर किसी पेज पर ज्यादा से ज्यादा 5 से 6 सेकंड के लिए रुकता है अगर इतने समय मे आपकी वेबसाइट लोड नही होती है तो वो दूसरे वेबसाइट पर चला जाता है और इस वजह से गूगल में आपकी वेबसाइट को नेगेटिव रिस्पॉन्स मिलता है और गूगल आपकी वेबसाइट को डाउन कर देता है।

2.off page seo

 

इसका काम ब्लॉग के बाहर होता है।इस कार्य मे आपको अन्य पॉपुलर ब्लॉग पर जाकर अपने लिंक को शेयर करना होगा और उस ब्लॉग के कमेंट सेक्शन में लिंक को डालना होगा, इससे हमें अच्छे बैकलिंक मिलते हैं जो हमारी वेबसाइट को रैंक करने में बहुत मदद करते है।
फेसबुक, quora, ट्विटर आदि सोशल मीडिया पर अपनी वेबसाइट का पेज बनाये।जिससे आपकी ऑनलाइन प्रजेन्स बढ़ती है।इसी के साथ ही कुछ पॉपुलर ब्लॉग गेस्ट पोस्ट का ऑप्शन देते है,आप वँहा पर अपने ब्लॉग के रीलेटेड आर्टिकल लिखो।

3.Local Seo

 

इसमे आपके ब्लॉग को खास तरीके से पोस्ट किया जाता है।जिससे आपके ब्लॉग को गूगल एक खास लोकल एरिया में रैंक करा सके।लेकिन यह तभी फायेदमंद है जब आपका ब्लॉग किसी एक लोकल मुद्दे पर हो और आप एक स्पेशल किसी एक जगह को टारगेट करना चाहते हो।

तो दोस्तो आपको समझ आ गया होगा कि Seo क्या है।वैसे seo एक बहुत बड़ा टॉपिक है जिसे किसी एक पोस्ट में पूरा नही लिखा जा सकता है।लेकिन ऊपर दी हुई जानकरी से आप अपने ब्लॉग को गूगल में रैंक करवा सकते हो और फ्री में मिलियन आर्गेनिक ट्रैफिक अपने ब्लॉग पर ला सकते हो।