October 29, 2020

THF

THE HINDI FACTS

pradhan mantri yojna list

(PMAY LIST) pradhan mantri Jan Awas Yojna- प्रधान मंत्री योजना लिस्ट

pmay list भारत सरकार के द्वारा चलाए जा रहे योजनाओ मे से एक बहुत ही इम्पॉर्टन्ट योजना है । भारत मे जनता के द्वारा हर पांच साल में नई सरकार का चयन किया जाता है । ताकि हर पांच साल में पिछली सरकार के काम काज को देखकर ये तय किया जाए कि पिछली सरकार को ही मौका देना है या नई सरकार चुननी है ।

सरकार भी जनता के लिए और देश के विकास के लिए अनेक प्रकार की योजनाएं लेकर आती है । इसी कड़ी में जनता ने 2014 माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के हाथ मे देश की कमान सौपी थी । 2014 में देश की कमान सम्हालने के बाद से आज तक माननीय प्रधानमंत्री जी ने अनेको योजनाओं को शुरू किया ।

चाहे हो देश को स्वच्छ रखने के लिए स्वच्छ भारत अभियान हो या देश के नौजवानों को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए स्टार्टअप योजना की शुरआत हो , या फिर देश के विकास के लिए सबसे महत्वकांक्षी योजना मेक इन इंडिया जैसे योजना का शुभारंभ हो।या भारत के लोगों को pmay list क द्वारा आवास  ऐसी अनेको योजनाओं की शुरआत प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने की है जो समाज के हर वर्ग को छूते हुए देश का सर्वांगीण विकास कर रही है ।

2014 से आज तक शुरू हुई योजनाओं (pmay list )की सूची बहुत लंबी है । इस लेख में हम उन सभी महत्वपूर्ण योजनाओं के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देंगे जो आप सभी के लिए किसी ना किसी प्रकार से या किसी ना किसी क्षेत्र से सम्बंधित होगीं।

इस लेख से मिलने वाली जानकारी से आप भारत सरकार के द्वारा चलाई जा रही अनेक योजाओ (pmay list) का लाभ उठा सकते है और अन्य किसी की सहायता भी कर सकते है क्योकि प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की जाने वाली अधिकतर योजनाएं देश के हर राज्य में लागू होती है । इन योजनाओं को लागू करने के पीछे माननीय प्रधानमंत्री जी उद्देश्य सशक्त भारत और आत्मनिर्भर भारत का निर्माण करना है ।

भारत सरकार द्वारा जारी सभी योजनाओ मे pmay list बहुत ही माहत्वाकांक्षी योजना है इन योजनाओ के लिस्ट मे आपको pmay list योजना क बारे मई जानकारी तीसरे नंबर पर मिलेगी pmay list मे भारत सरकार द्वारा दिए गए आवास से रिलेटेड इनफार्मेशन है

बड़े सहरों मे रहने बाले तथा गवाओं मे गरीब परिवारों के  लोगों के पास अपने मकान हो इसके लिए भारत सरकार ने pmay list द्वारा सभी को घर देने का बायेदा किया है

 

इस लेख में आपको सभी योजनाओं के बारे में आवेदन की पात्रताए , आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज , आवेदन कहाँ करे जैसी आवश्यक जानकारियां मिलेगी ।

 

1. आयुष्मान भारत योजना (प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना)

 

ये योजना उन लोगो के लिए लाभकारी है जो आर्थिक रूप से कमजोर होते है और इस कारण अपना इलाज नही करवा पाते है । क्योकि बीमारी पर खर्च काफी ज्यादा होने के कारण वे इसका खर्चा वहन नही कर पाते है । जिसके कारण कई बार तो ऐसे व्यक्तियों को अपनी जान गवानी पड़ती है ।

कोई भी व्यक्ति आर्थीक कमजोरी के कारण अपनी जान ना गंवा सके इसके लिए ये योजना शुरू की गई है । इस योजना में सरकार द्वारा 5 लाख तक का बीमा किया जाता है । इस योजना के तहत इलाज करवाने वाले व्यक्ति का 5 लाख तक का खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाता है। इस योजना को 2008 में राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के रूप में शुरू किया गया था ।

पात्रता

1. इस योजना के लिए परिवार का आकार , आयु या जाति कोई मायने नही रखता है ।
2. इस योजना में रजिस्ट्रेशन से पहले भी किसी व्यक्ति को कोई बीमारी है तो उसके लिए भी सरकार खर्च करेगी ।
3. कोई भी व्यक्ति जो इसमे चयनित है ।

लाभ –

1. यह योजना चिकित्सा के क्षेत्र में चलाई जाने वाली विश्व की सबसे बड़ी योजना है।
2. पूरी तरह से सरकार के द्वरा चलाई जाने वाली योजना है । इसमे मरीज की बीमारी में आने वाले सारे खर्च का भुगतान केंद्र व राज्य दोनों सरकार मिलकर करती है ।
3. जो भी व्यक्ति इस योजना के लिए पात्र है उन्हें सलाना 5 लाख तक का हेल्थ कवरेज दिया जाता है ।
4. इस योजना के तहत 10.74 करोड़ से भी अधिक लोग लाभ प्राप्त कर चुके है ।
5. इस योजना के कारण एक सबसे बड़ी समस्या , गरीबी के कारण इलाज नही करवा पाने की से निजात मिल जाएगी। क्योकि इस देश हर साल 6 करोड़ लोगों का गरीबी के कारण इलाज नही हो पाता है।
6. इस योजना के तहत देश की शहरी और ग्रमीण क्षेत्र की कमजोर आबादी का 40 % को शामिल किया गया है । इस योजना में सामाजिक आर्थिक जाति आधारित जनगणना 2011 के आधार पर तय किये गए है ।
7. इस योजना में अस्पताल लाने ले जाने , इलाज और यहाँ तक कि दवाओं का खर्च भी शामिल है ।

 

2. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

 

इस योजना को गर्भवती महिलाओं के लिये शुरू किया गया है । इस योजना का उद्देश्य गर्भवती महिला को समुचित पोषण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है। इस योजना में सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को 5000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
आवेदन की प्रक्रिया –
यह पैसा बिना हॉस्पिटल जाए नहीं ले सकते हैं। गर्भवती महिला को हॉस्पिटल जाकर आवेदन पत्र मय हस्ताक्षर भरकर जमा करवाना होगा । उसके बाद ही सरकार ₹5000 की अनुदान राशि आपके खाते में भेजती है।

पात्रता –

इस योजना में 18 से 40 वर्ष तक कि वे सभी महिलाएं शामिल है जो गर्भवती है ।
आवश्यक दस्तावेज –
1. गर्भवती महिला का आधार कार्ड
2. गर्भवती महिला का वोटर आईडी
3. पासपोर्ट साइज की फोटो
4. पति का आधार कार्ड या वोटर कार्ड
5. पति का और गर्भवती महिला का हस्ताक्षर
6. आशा बहू का हस्ताक्षर
7. मातृ वंदना योजना का पूरा भरा हुआ फॉर्म

लाभ –

इस योजना में हर गर्भवती महिला को 5000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी ।
ये राशि महिला के एकाउंट में तीन किस्तों में डाली जाएगी । प्रथम क़िस्त 1000 रुपये की राशि का भुगतान गर्भावस्था में पंजीकरण करवाने के बाद होता है ।
दूसरी क़िस्त 2000 रुपये की राशि का भुगतान सरकार तब करती है जब गर्भवती महिला 1 माह तक अपनी सम्पूर्ण जांच प्रकिया पूरी कर लेती है और इसका दावा 6 माह की अवधि तक कर सकते है ।
तीसरी क़िस्त में 1000 कई राशि भुगतान किया जाता है । यह तब किया जाता है बच्चे का जन्म अस्पताल में हुआ हो । अस्पताल में जन्मे का जन्म पंजीकरण होने के बाद यह राशि बैंक एकाउंट में आती है ।
मातृ वंदना योजना के लिए आवेदन कौन नही कर सकता है –
1.अगर आप इनकम टैक्स return भरते है तो आपको इस योजना का फायदा नही मिलेगा ।
2. अगर आप सरकारी नौकरी करते है तो भी आपको इस योजना का फायदा नही मिलेगा ।

 

3.प्रधानमंत्री आवास योजना Pmay list

 

रोटी , कपड़ा और मकान व्यक्ति की प्राथमिक आवश्यकता होती है । मोदी सरकार ने लक्ष्य रखा है कि 2022 तक प्रत्येक व्यक्ति के पास अपना पक्का मकान होना चाहिए । इसके लिए सरकार जिनके पास कच्चे घर , नील घर या कोई घर नही है उन्हें घर बनाने के लिए pmay list के माध्यम के द्वारा  सहायता राशि प्रदान करती है । 2016 में पंचायती राज मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर ने इस योजना की शुरआत की थी ।

पात्रता – इस योजना का लाभ लेने के लिए निम्न पत्रताए होना आवश्यक है

1. इस योजना के लिए व्यक्ति का चयन सामाजिक आर्थिक और जाति आधारित जनगणना के आधार पर प्राप्त डेटा (pmay list ) से किया जाता है ।
2. पात्र व्यक्ति की जांच ग्राम सभा द्वारा की जाती है ।
3. जानकारी सही पाए जाने पर ग्रामसभा द्वारा एक प्रपत्र जारी किए जाता है ।
उसके बाद आप इस योजना के लिए पात्र है।

आवश्यक दस्तावेज -pmay list 

1. लाभ प्राप्त करने वाले व्यक्ति का आधार कार्ड और जॉब कार्ड की प्रमाणित फोटो कॉपी
2. ग्राम सेवक द्वारा किये गए सर्वे प्रपत्र की फोटो कॉपी
3. पटवारी द्वारा जारी किया गया भूमि व सिंचाई साधन का प्रमाण पत्र (pmay list )
4. व्यक्ति का आय प्रमाण पत्र जो स्वयं या किसी सरकारी कर्मचारि द्वारा प्रमाणित होना चाहिए ।
5. मकान का प्रमाण पत्र जो स्वयं के द्वारा या किसी सरकारी कर्मचारी से प्रमाणित होना चाहिए ।
6. दो पहिया वाहन , तीन पहिया वाहन या चार पहिया वाहन नही होने का प्रमाण पत्र । वह भी स्वयं द्वारा प्रमाणित या किसी सरकारी कर्मचारी द्वारा प्रमाणित होंना चाहिए ।
आवेदन की प्रक्रिया
इसके लिए आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmayg.nic.in पर आवेदन करना होगा । उसके बाद चाहिए गयी जानकारी भरनी है ।
इस योजना के लिए आप csc पर जाकर भी आवेदन कर सकते है ।

लाभ –

1 .इस योजना में पात्र व्यक्ति को सरकार द्वारा मकान बना कर दिया जाता है या फिर मकान बनाने के लिए सहायता राशि प्रदान करती है ।2. नियमों के अनुसार जिसकी आय 6 लाख से 12 लाख रुपए है वो एमआईजी 1 कैटेगरी में आता है । जिसे सरकार द्वारा 20 साल के लोन पर ब्याज में 4 फीसदी की सब्सिडी मिलती है ।
3. वहीं 12 लाख से 18 लाख रुपए तक की आय वाले लोग एमआईजी 2 कैटेगरी में आते हैं| जिन्हें ब्याज में 2 से 3 फीसदी की सब्सिडी मिलती है ।|मतलब इसके तहत एमआईजी 1 को 2.35 लाख रुपए और एमआईजी 2 कैटेगरी को 2.3 लाख रुपए की सब्सिडी मिलेगी|

4. pmay list मे जाके आप अपना नाम मालूम कर सकते हैं

ये सब्सिडी पहली बार घर खरीदने वालों को मिलती है ।

 

4. नेशनल पेंशन योजना

 

भारत सरकार द्वारा भारत के नागरिकों को वृद्धावस्था में सुरक्षा प्रदान करने के लिए नेशनल पेंशन योजना की शुरुआत की गई है। इसमे व्यक्ति के 60 साल पूरे के बाद उसकी पेंशन चालू हो जाएगी यानी रिटायरमेन्ट की उम्र में एक निश्चित राशि मिलने लगेगी । यह एक प्रभावशाली बचत योजना है । इस योजना में 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद न्यूनतम ₹3000 प्रति माह पेंशन के रूप में दिया जाता है ,यदि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो उसके जीवनसाथी (पति या पत्नी) 50% पेंशन प्राप्त करने का हकदार होता है ।

पात्रता

1. स्व नियोजक , व्यापारी , खुरदरा विक्रेता और दुकान मालिक इस योजना के लिए पात्र है ।।
2. इस योजना में शामिल होने लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष तथा अधिकतम आयु 40 वर्ष होनी चाहिए ।
3. करोबार 1.5 करोड़ रुपयों से अधिक का नही होना चाहिए ।
4. आयकरदाता नही होना चाहिए ।
5. सरकारी सेवा में सेवारत या सेवानिवृत्त कोई भी कर्मचारी इस योजना का लाभ नही उठा सकता है ।
6. प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना या किसान मानधन योजना के तहत रजिस्टर नही होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

1. आधार कार्ड
2. बैंक खाता जो आधार से लिंक हो

लाभ

1. इस योजना में 60 वर्ष की आयु के बाद हर महीने 3000 रुपये की राशि प्रदान की जाती है ।
2. आवेदक की मृत्यु होने की दृष्टि में पेंशन की राशि का 50 प्रतिशत उसके साथी पति या पत्नी को दी जाती है ।
3. जितना निवेश आप करते है इस योजना में सरकार भी उतना ही निवेश करती है।

आवेदन की प्रक्रिया

1. सबसे पहले योग्य लाभार्थी को अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर जाना होगा
जहाँ लाभार्थी के आधार कार्ड के अनुरूप नाम , जन्म की तारीख , आधार कार्ड नंबर , आधार कार्ड फिंगरप्रिंट के माध्यम से ऑथेंटिकेशन भी लिया जाएगा ।
लाभार्थी को अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवाना होगा जिसके लिए लाभार्थी से कुछ निजी जानकारी मांगी जाएगी । जैसे कि, बैंक अकाउंट की जानकारी, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी , जीएसटीआईएन नंबर , सालाना टर्नओवर , नॉमिनी की जानकारी । ये सभी जानकारी भरने के बाद आपको एक सबमिट स्लिप दी जाएगी । इस प्रकार आपका ऑनलाइन फॉर्म भर दिया जाएगा ।

 

5. किसान सम्मान निधि योजना

 

किसानों की आर्थिक सहायता करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिसंबर 2018 में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत की थी । जिसके तहत किसानों को 6000 रुपये की सालाना मदद देने का प्रावधान किया गया है । इस योजना के तहत लगभग 9.9 करोड़ किसानो को 75000 करोड़ रुपये की सहायता प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है ।
आवश्यक दस्तावेज
इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान के पास निम्न दस्तावेज होना आवश्यक है
1. आधार कार्ड
2. कृषि भूमि का रिकॉर्ड
3. आधार से लिंक बैंक खाता

पात्रता

1. इस योजना का लाभ लेने के लिए पहले किसान के पास 2 हेक्टेयर या इससे कम भूमि होना आवश्यक था लेकिन अब इसमें सभी किसानों को शामिल कर लिया गया है ।
2. इस योजना के लाभ वे व्यक्ति नही ले सकते जो सरकारी सेवा में कार्यरत है या सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त हो चुके है या जिनकी 10000 या इससे ज्यादा की पेंशन आती है ।
3. डॉक्टर , इंजीनियर , आर्किटेक्ट या जिसके पास प्रोफेसनल डिग्री हो ऐसे व्यक्ति भी इस योजना का लाभ नही उठा सकते है।
आवेदन करने की प्रक्रिया

इसके लिए किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा और चाही गयी जानकारी व दस्तावेज उपलब्ध करवाने होंगे ।

 

6. प्रधानमंत्री रोजगार योजना

 

यह योजना उन लोगो के लिये शुरू की गई है जो बिज़नेस करना चाहते है लेकिन पैसों की कमी के कारण काम शुरू नही कर पा रहे है । इस योजना के द्वारा सरकार बेरोजगारी हटाना चाहती है व आत्मनिर्भर बनने का मौका देती है । इस योजना में सरकार की तरफ से बैंक कम ब्याज दर पर लोन उपलब्ध करवाते है। कारोबार क्षेत्र के लिए 1 लाख रुपए , सेवा तथा उद्योग क्षेत्र के लिए 2 लाख रुपये का ऋण और कार्यकारी पूंजी के लिए 10 लाख रुपए का प्रावधान किया गया है ।

पात्रता

1. इस योजना के लिए व्यक्ति को कम से कम मैट्रिक पास होना आवश्यक है ।
2. योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति की आयु 18 से 35 साल होनी चाहिए ।
3. प्रधानमंत्री कौशल विकास केंद्र से शिक्षति व प्रमाण पत्र प्राप्त व्यक्ति प्रधानमंत्री रोजगार योजना में आवेदन कर सकता है ।
4. आवेदन करने वाले व्यक्ति के परिवार की मासिक आय 40000 से अधिक नही होनी चाहिए ।
5. इस योजना के लाभ लेने वाला व्यक्ति जिस स्थान से आवेदन कर रहा है वहाँ कम से कम 3 साल से रह रहा हो ।
6 . लाभार्थी पर किसी भी बैंक का कोई कर्ज बाकी नही रहना चाहिए ।

आवेदन –

इस योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले प्रधानमंत्री रोजगार योजना की आधिकारिक वेबसाइट dcmsme.gov.in पर जाकर आवेदन करना होगा और चाही गयी जानकारी भरकर रजिस्ट्रेशन कर सकते है और इसका लाभ उठा सकते है । फिर जिला स्तर पर गठित समिति के द्वारा आवेदनकर्ताओं के इंटरव्यू लिए जाते है और डॉक्यूमेंट की जांच की जाती है ।

लाभ –

1. आसान किस्तों में लोन मिलता है जिससे आप अपना स्वयं का व्यपार खड़ा कर सकते है ।
2. लोन का भुगतान लाभार्थी आसान किस्तों में 3 से 7 साल के बीच कर सकता है ।

 

7. प्रधानमंत्री कुसुम सौलर पम्प वितरण योजना

 

हमारे देश मे सूरज साल के लगभग 12 महीने चमकता है इसलिए हमारे पास सौर ऊर्जा का अक्षय भंडार है । इस बात को ध्यान रखते हुए सरकार ने सौर ऊर्जा से चलने वाले पम्प का वितरण करने की योजना शुरू की है ताकि सिंचाई में आने वाले खर्च को कम किया जा सके और पेट्रोल डीजल की खपत भी कम की जा सके ।
इस योजना में किसान को दोगुना लाभ दिया जाएगा । इस योजना के तहत किसान के सोलर सेल से बनने वाली बिजली को भी सरकार के द्वारा खरीदा जाएगा । लगने वाली सोलर सेट पर भी सब्सिडी मिलेगी । इस योजना से सरकार 28000 मेगावाट अतिरिक्त विधुत उत्पादन करना चाहती है ।

आवेदन की प्रक्रिया

1. सबसे पहले इस योजना के लिए आधिकारिक वेबसाइट https://www.kusum.online/ पर जाकर लॉगिन करना होगा । उसके बाद कसम योजना के ऑनलाइन फॉर्म को चाही गई जानकारी के साथ भरना होगा ।
2. फॉर्म भरने के बाद आपको लॉगिन आई डी और पासवर्ड मिल जाएगा जिससे आप लॉगिन करके इस योजना के लिए अप्लाई कर सकते है ।

आवश्यक दस्तावेज

1. आवेदन करने वाले व्यक्ति का आधार कार्ड
2. बैक अकाउंट पासबुक जो आधार नम्बर से लिंक होनी चहिए
3. जमीन के दस्तावेज
4. मोबाइल नंबर
5. निवास स्थान के पते से सम्बंधित दस्तावेज
6. आवेदक की पासपोर्ट साइज फोटो

लाभ

1.इसमे किसान को सोलर पंप लगाने के लिए सरकार के द्वारा सब्सिडी दी जाती है ।
2. इसमे सरकार द्वारा 90 प्रतिशत तक सहायता की जाती है ।
3. इससे सिंचाई में काम आने के बाद बची बिजली को आप बेच सकते है और अतिरिक्त कमाई कर सकते है ।

 

8. प्रधानमंत्री धन लक्ष्मी योजना

 

यह योजना महिलाओं को अपना व्यापार शुरू करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए बनाई गई है । इस योजना में सरकार के द्वारा महिलाओं को अपना व्यापार शुरू करने के लिए 5 लाख तक कि सहायता उपलब्ध करवाई जाती है ताकि महिला भी पुरुषों के बराबर खड़ी हो सके । यह योजना महिलाओं के सशक्तिकरण में एक बहुत ही महत्ती भूमिका निभाने वाली है । सरकार के द्वारा उपलब्ध करवाए जाने वाला लोन बिना ब्याज के उपलब्ध करवाया जाता है ।

पात्रता

1. आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए ।
2. महिला की आयु 18 वर्ष से 55 वर्ष तक होनी चाहिए ।
3. महिला ने कोई ना कोई कोर्स किया हो ।

आवश्यक डॉक्यूमेंट

1. महिला का आधार कार्ड
2. महिला का स्वयं का बैंक एकाउंट होना चाहिए जो आधार से लिंक होना चाहिए । साथ ही यह एकाउंट किसी राष्ट्रीयकृत बैंक में होना चाहिए किसी निजी क्षेत्र के बैंक में नही होना चाहिए ।
3. महिला का वोटर आईडी कार्ड और पेन कार्ड होना आवश्यक है ।
4. महिला ने जो कोर्स किया है उसका प्रमाण पत्र
5. महिला का आय प्रमाण पत्र

आवेदन की प्रक्रिया

1. महिला को सभी आवश्यक दस्तावेजो के साथ अपने नजदीकी जिला स्तर सामुदायिक केंद्र जाकर प्रधानमंत्री धन लक्ष्मी योजना का फॉर्म भरना होगा। और चाही गई जानकारी भर कर फॉर्म जमा करवाना होगा ।
2.इसका ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है ।
ऑनलाइन आवेदन करने के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट wcd.nic.in पर जाकर धन लक्ष्मी योजना का फॉर्म भरना होगा । इस फॉर्म में आपसे नाम , पता , जन्मदिनांक , पता जैसी कुछ जानकारियां मांगी जाएगी ।
सभी तरह की जानकारी सही प्रकार से भरने के बाद फॉर्म को सबमिट करना होगा । इस प्रकार आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है ।

लाभ

1. इस योजना से महिला सशक्त बनेगी । और स्वयं का व्यापार कर सकती है ।
2. सरकार द्वारा 5 लाख तक कि सहायता राशि लोन के रूप में उपलब्ध करवाई जाती है ।
3. यह राशि 0 प्रतिशत ब्याज दर पर उपलब्ध करवाई जाती है ।
4. इस राशि को महिला 30 तक समय मे कभी भी लौटा सकती है ।

 

9. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

 

हमारे देश मे कृषि मानसून पर आधारित कृषि है । इस कारण हमारे देश मे किसानों की फसल प्रकृतिक आपदाओं के कारण नष्ट हो जाती है और किसान के द्वारा की गई मेहनत पर पानी फिर जाता है । जिसके कारण किसान कर्ज के बोझ में दब जाता है । किसानों को कर्ज के बोझ से बचाने और फसल के खराब होने की स्तिथि में भी क्लेम दिलाने के लिए प्रधानमंत्री फसल बिना योजना का शुभारंभ किया गया था । इस योजना के तहत किसान को बीमा करवाई गई फसल का बीमा कम्पनी के द्वारा क्लेम दिया जाता है ।

आवेदन की प्रक्रिया

इस योजना में कर्जदार किसानों के लिए अलग है तथा जो किसान कर्जदार नही है उनके लिए अलग आवेदन प्रक्रिया अपनाई जाती है ।
किसान जो कर्जदार है –

कर्जदार किसान जो किसान क्रेडिट कार्ड धारक है या फसली कर्ज लिए हो वे प्रधानमंत्री फसल बिना योजना का आवेदन अपने नजदीकी सरकारी बैंक या सहकारी बैंक से इसका आवेदन कर सकते है ।

किसान जो कर्जदार नही है – वे किसान जिन्होंने किसान क्रेडिट कार्ड या फसली कर्ज नही लिया हो उनके लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन करने का तरीका अलग है । इस प्रकार के किसान जन सुविधा केंद्र या बीमा पोर्टल से सीधे आवेदन कर सकते है ।

किन फसलों का बीमा किया जा सकता है –

जैसे खरीफ के मौसम में खरीफ की फसलों का बीमा किया जा सकता है जो निम्न है – धान, मक्का, ज्वार, बाजरा,उरद , मूंग , मूंगफली , सोयाबीन , अरहर तिल
ऐसे ही रवि की फसलों का भी बीमा किया जा सकता है ।

किस स्तिथि में मिलती बीमा की राशि

1. प्रतिकूल मौसमी परिस्थिति में फसल के 50 प्रतिशत तक कम होने की संभावना पर 25 प्रतिशत तक का क्लेम मिलता है ।
2. बुवाई से कटाई के बीच फसल को रोगों , कीटनाशकों और प्रकृतिक आपदाओं से हुए नुकसान के लिए बीमा कम्पनी के द्वारा क्लेम राशि जी जाती है ।
3. खरीफ की फसलों को ओलावृष्टि , भूस्खनल , बादल फटने व आकाशीय बिजली गिरने से होने वाले नुकसान के लिए भी बीमा कम्पनी क्लेम देती है ।
4. फसल कटाई के अगले 14 दिन तक सूखने के लिए रखी गयी फसल को बेमौसम होने वाली प्रकृतिक घटनाओ से होने वाले नुकसान के लिए भी बीमा कम्पनी क्लेम राशि मुहैया करवाती है ।
5. मौसम की प्रतिकूलता के कारण फसल की बुबाई के कम होने के कारण होने वाले नुकसान की भरपाई भी बीमा कम्पनी के द्वारा की जाती है ।

 

10. विवाह अनुदान योजना

 

इस योजना में सरकार के द्वरा बेटी की शादी पर 50000 से 55000 रुपयों की सहायता राशि प्रदान की जाती है ताकि शादी करने वाले माता पिता पर अतिरिक्त बोझ ना पड़े ।

पात्रता

1. इस योजना के लिए आवेदन करने वाला व्यक्ति जिस राज्य में आवेदन कर रहा है वहाँ का स्थायी नागरिक होना आवश्यक है ।
2. इस योजना के लिए लाभार्थी की आय ग्रामीण क्षेत्र में 46800 तथा शहरी क्षेत्र के लिए 56400 से अधिक नही होनी चाहिए ।
3. विवाह अनुदान योजना के लिए आवेदनकर्ता गरीबी रेखा से नीचे होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

1. आवेदन करने वाले का आधार कार्ड
2. बैंक खाता नंबर जो आधार से जुड़ा हुआ होना चाहिए।
3. शादी कार्ड
4. राशन कार्ड
5. परिवार का आय प्रमाण पत्र
6. बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
7. मूल निवास प्रमाण पत्र

आवेदन कैसे करे

1. सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट http://www.shadianudan.upsdc.gov.in/ पर जाकर पंजीकरण करना होगा ।
2. इस फॉर्म में चाही गई जानकारी सही सही भरने के बाद सबमिट करना है और और इस फॉर्म की प्रतिलिपी लेनी है । जिसे सम्बंधित जिला पिछड़ा कल्याण अधिकारी कार्यालय में जाकर जमा करवानी है और रशीद लेनी है ।

 

11. प्रधानमंत्री किसान ट्रेक्टर योजना

 

इस योजना के तहत सरकार द्वारा उन किसानो की मदद की जाती जाती जो किसान कृषि कार्य हेतु ट्रेक्टर खरीदना चाहते है । इस योजना में पात्र किसानो को सरकार द्वारा 20 से लेकर 50 प्रतिशत तक सब्सिडी उपलब्ध करवाती है ।

पात्रता

1. इस योजना से ट्रेक्टर खरीदने वाले किसान के नाम खेती योग्य जमीन होनी चाहिए
2. इस योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक है कि किसान पहले से ही सरकार की किसी सब्सिडी योजना से न जुड़ा हो ।
आवश्यक दस्तावेज
1. आवेदन करने वाले किसान के पास स्वयं का आधार कार्ड होना चाहिए ।
2. बैंक खाता जो आधार से लिंक होना चाहिए ।
3. किसान के पास अपने नाम की कृषि भूमि के दस्तावेज होने चाहिए ।
4. किसान का पहचान पत्र भी होना आवश्यक है ।

आवेदन करने की प्रक्रिया

1. अपने नजदीकी csc पर जाकर वहाँ से किसान ट्रेक्टर योजना का फॉर्म प्रप्त करे ।
2. आवश्यक दसतावेज जो ऊपर बताए गए देने है । जिसके बाद csc संचालक आपके फॉर्म को ऑनलाइन सबमिट कर देगा ।
3. ऑनलाइन सबमिट करने के बाद आपको सबमिट स्लिप दी जाएगी जिससे आप अपने अनुदान की स्तिथि के बारे में पता कर सकते है ।

लाभ

1. इस योजना का लाभ देश के सभी किसान ले सकते है ।
2. नया ट्रेक्टर खरिदने पर सरकार द्वारा 20 प्रतिशत से लेकर 50 प्रतिशत तक सब्सिडी उपलब्ध करवाई जाती है ।

 

12. प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना

 

कोरोना महामारी के कारण चौपट काम धंधे चौपट हो गए है । इस योजना के तहत रेहड़ी या पटरी वाले छोटे दुकानदारों को 10000 की सहायता राशि लोन पर उपलब्ध करवाई जाएगी । इस योजना से मिलने वाली राशि पर ब्याज भी बहुत कम देना होगा । इस योजना से मिलने वाली राशि से ये सभी दुकानदार अपना काम नए सिरे से शुरू कर सकते है ।
Pm SVANidhi Yojana के तहत देश के लगभग 50 लाख से भी अधिक वंडर, हॉकर, ठेले वाले ,रेहड़ी वाले, टेली, फल वाले इत्यादि को स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना का लाभ दिया जाएगा ।

पात्र

1. नाई की दुकान चलाने वाले व्यक्ति
2. सड़क के किनारे जूता बनाने वाले (मोची)
3. पान की दुकान (पनवाड़ी)
4. सड़क के किनारे सब्जी बेचने वाले
5. कपड़े धोने वाले की दुकान (धोबी)
6. फल बेचने वाले
7. चाय का ठेला लगाने वाले
8. स्ट्रीट फूड विक्रेता
9. फेरी वाला जो वस्त्र इत्यादि बेचता है
9. खोखा लगाने वाले
10. चाऊमीन , ब्रेड पकोड़ा ,अंडे बेचने वाले विक्रेता
11. सड़क के किनारे किताबें स्टेशनरी लगाने वाले
12. कारीगर
13. सभी प्रकार के छोटे-मोटे कारोबारी

लाभ

1. इस योजना से छोटे दुकानदारों को कोरोना के कारण चौपट हुए काम धंधों को नए सिरे से शुरू करने में सहायता मिलेगी ।
2. इस योजना के तहत 50 लाख लोगों तक 10000 रुपयों की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी वह भी बहुत कम ब्याज दर पर ।

आवेदन प्रक्रिया

सबसे पहले इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmsvanidhi.mohua.gov.in/ पर जाकर अपना पंजीकरण करवाना होगा । इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी भरने के बाद मिलने वाली कॉपी के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज अटेच करके इसे अपने नजदिक्क लेंडर्स आफिस में जमा करवाना है।

pmay list

pmay list